‘आपका यह सपना अधूरा रह गया अब..’, आखिर राजू श्रीवास्तव के किस अधूरे सपने का एहसान कुरैशी ने किया जिक्र? | ahsaan qureshi reveals raju srivastava unfullfilled dream

राजू श्रीवास्तव और एहसान कुरैशी थे गहरे दोस्त

राजू श्रीवास्तव और एहसान कुरैशी थे गहरे दोस्त

‘द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज’ शो में एक कंटेस्टेंट के तौर पर राजू श्रीवास्तव और एहसान कुरैशी की एंट्री हुई। इस दौरान दोनों के बीच गहरी दोस्ती हुई। इस जोड़ी ने ना सिर्फ फैंस को एंटरटेन किया बल्कि उनके दिल और दीमाग अपनी ऐसी छाप छोड़ी जिसके बाद इनकी गिनती देश के टॉप कॉमेडियन में होने लगी। लेकिन अब ये जोड़ी पर्दे पर फैंस को दोबारा देखने को नहीं मिलेगी। राजू श्रीवास्तव के निधन के बाद एहसान कुरैशी ने कई बड़े खुलासे किए।

'उनकी कॉमेड़ी की सबसे अच्छी बात यह थी कि..'

‘उनकी कॉमेड़ी की सबसे अच्छी बात यह थी कि..’

एक इंटरव्यू के दौरान एहसान कुरैशी ने राजू श्रीवास्तव की कॉमेडी की तारीफ करते हुए कहा कि, ‘उनकी कॉमेड़ी की सबसे अच्छी बात यह थी कि वह किसी भी चीज को एक पात्र बनाकर उसके इर्द-गिर्द कहानी बुन देते थे। जो लोगों को अक्सर पसंद आती थी। साथ ही उनकी कॉमेडी की सबसे बड़ी खासियत यह थी कि उन्होंने कभी भी अपनी किसी भी परफॉर्मेंस में अभद्र शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया, उनकी यही खासियत उनहें हमेशा हमारे दिलों में मिठी याद बनकर रहेगी’।

'हम इतने गहरे दोस्त थे कि...'

‘हम इतने गहरे दोस्त थे कि…’

एहसान कुरैशी ने आगे कहा कि, हमारी दोस्ती इतनी अच्छी थी कि, ‘हम अक्सर एक दूसरे के घर पर आते जाते रहते थे। यहां तक हमारे बच्चे भी आपस में अच्छे दोस्त हैं। जब भी राजू भैया को किसी परफॉर्मेंस की प्रैक्टिस करनी होती थी तो वह अक्सर घर पर आकर मेरे लिए स्पेशल परफॉर्मेंस करते थे और मुझसे पुछते थे कि क्या उनके चुटकुले सही हैं या नहीं’।

राजू भैया करते थे गरीबों की मदद

राजू भैया करते थे गरीबों की मदद

इसके आगे राजू श्रीवास्तव ने यह भी कहा कि, ‘राजू भैया गरीबों मदद किया करते थे। वह दिल के बहुत अच्छे थे उन्हें जब भी पता चलता था कि कोई नया कॉमेडियन आर्थिक तंगी से जूझ रहा है तो वह हमेशा आगे बढ़कर उसकी मदद करते थे। क्योंकि एक समय ऐसा था जब वह खुद भी इंडस्ट्री में इस फेज से गुजरे थे’।

राजू भैया का यह सपना रह गया अधूरा

राजू भैया का यह सपना रह गया अधूरा

इसके आगे एहसान कुरैशी ने उनके अधूरे सपने का जिक्र करते हुए कहा कि, ‘हम आखिरी बार मुंबई के हुनर हाट में मिले थे। उस दौरान मैंने उनको फिल्म बॉम्बे टू गोवा जैसी एक और फिल्म बनानी चाहिए। जिसमें सभी कॉमेडियन शामिल हों। मेरे यह आइडिया उन्हें पसंद आया जिसके बाद हमने फैसला किया कि हम इसकी शूटिंग उत्तर प्रदेश में करेंगे। हालांकि उनका यह सपना हमेशा के लिए अधूरा रह गया’।

Recommended Video

Raju Srivastav Death: हार्ट अटैक आया तो बचना मुश्किल, छोड़ दें ये आदतें | वनइंडिया हिंदी | *News

नहीं रहे राजू श्रीवास्तव

नहीं रहे राजू श्रीवास्तव

बीते 10 अगस्त को राजू श्रीवास्तव जिम में अचानक गिर पड़े थे, जिसके बाद उन्हें दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया। राजू श्रीवास्तव को यहां आईसीयू में वेंटिलेटर पर रखा गया था। हालांकि बीच में खबर आई थी उनकी तबीयत में सुधार हुआ है, लेकिन पिछले कुछ दिनों उनकी तबीयत लगातार बिगड़ रही थी। इस दौरान देशभर में राजू श्रीवास्तव के लिए दुआओं का दौर चलता रहा, लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर उन्हें बचा नहीं पाए।

ये भी पढ़ें:सुनील-कपिल की सुलह कराना चाहते थे राजू श्रीवास्तव, लेकिन कॉमेडियन की इस बात से थी 'गजोधर भईया' को नफरतये भी पढ़ें:सुनील-कपिल की सुलह कराना चाहते थे राजू श्रीवास्तव, लेकिन कॉमेडियन की इस बात से थी ‘गजोधर भईया’ को नफरत

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.