इस शर्त पर विपक्ष के गठबंधन में शामिल हो सकती हैं मायावती, BSP प्रवक्ता ने दिया बड़ा बयान | BSP Chief Mayawati Lok Sabha Elections 2024 BSP national spokesperson Dharamveer Chaudhary

गठबंधन में शामिल होने के लिए रखी शर्त

गठबंधन
में
शामिल
होने
के
लिए
रखी
शर्त

इस
बीच
बसपा
के
राष्ट्रीय
प्रवक्ता
धर्मवीर
चौधरी
ने
कहा,
बहुजन
समाज
पार्टी
2024
के
लोकसभा
चुनावों
के
लिए
विपक्षी
गठबंधन
में
शामिल
हो
सकते
है।
लेकिन
शर्त
यह
है
कि
मायावती
को
प्रधानमंत्री
पद
के
उम्मीदवार
के
रूप
में
पेश
किया
जाए।
उन्होंने
कहा
कि
गठबंधन
में
शामिल
होने
या
पीएम
उम्मीदवार
के
रूप
में
पेश
होने
का
अंतिम
निर्णय
बहनजी
(मायावती)
द्वारा
ही
लिया
जाएगा।
हालांकि,
उन्होंने
कहा
कि
विपक्षी
दलों
के
पास
मायावती
के
कद
का
कोई
बड़ा
नेता
नहीं
है।

मायावती के कद का कोई बड़ा नेता नहीं: धर्मवीर चौधरी

मायावती
के
कद
का
कोई
बड़ा
नेता
नहीं:
धर्मवीर
चौधरी

इस
दौरान
मीडिया
से
बातचीत
करते
हुए
धर्मवीर
चौधरी
ने
कहा,
अगर
विपक्षी
दल
बसपा
के
पास
सम्मानजनक
तरीके
से
आते
हैं
और
पार्टी
प्रमुख
को
अपने
एजेंडे
से
अवगत
कराते
हैं,
तो
पार्टी
को
उनके
साथ
गठबंधन
करने
में
कोई
नुकसान
नहीं
होगा।
इस
दौरान
उन्होंने
दावा
किया
कि
विपक्षी
दलों
के
पास
मायावती
के
कद
का
कोई
नेता
नहीं
है।
वो
एक
बड़ी
नेता
हैं।

अखिलेश से गठबंधन पर कही ये बात

अखिलेश
से
गठबंधन
पर
कही
ये
बात

वहीं,
अखिलेश
यादव
के
साथ
गठबंधन
की
संभावना
के
बारे
में
पूछे
जाने
पर
चौधरी
ने
कहा,
‘मायावती,
अखिलेश
यादव
से
कहीं
बड़ी
नेता
हैं।
वे
चार
बार
उत्तर
प्रदेश
की
मुख्यमंत्री
रह
चुकी
हैं,
जबकि
अखिलेश
सिर्फ
एक
बार
इस
पद
पर
आसीन
हुए
हैं।
मायावती
बड़े
दिल
वाली
है
और
दूसरों
की
गलतियों
को
माफ
कर
देती
हैं।
अगर
अखिलेश
उन्हें
नेता
के
रूप
में
स्वीकार
करते
हैं,
तो
हम
उनका
फूलों
से
स्वागत
करेंगे।’

नहीं बुलाया गया था टीएमसी और एनसीपी की बैठक में

नहीं
बुलाया
गया
था
टीएमसी
और
एनसीपी
की
बैठक
में

बता
दें
की
टीएमसी
और
एनसीपी
द्वार
बुलाई
गई
विपक्षी
पार्टियों
की
बैठक
में
बीएसपी
को
बाहर
रखा
गया
था।
जिसमें
पीएम
पद
के
उम्मीदवार
को
लेकर
फैसला
होना
था।
बैठक
में
ना
बुलाये
जाने
पर
मायावती
ने
विपक्ष
के
व्यवहार
पर
एक
ट्वीट
कर
सार्वजनिक
रूप
से
अपना
गुस्सा
भी
जाहिर
किया
था।

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.