जानें कैसे हुई कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव की मौत, आखिरी समय में ब्रेन में हो गई थी ये बड़ी समस्या | know how comedian raju srivastav died and the reason big problem in brain at last moment

डॉक्टरों के अनुासर ब्रेन डेड हो गए थे राजू

डॉक्टरों
के
अनुासर
ब्रेन
डेड
हो
गए
थे
राजू

राजू
श्रीवास्तव
के
निधन
की
खबर
ने
सबको
दुखी
कर
दिया
है।
दरअसल
कुछ
दिनों
पहले
परिवारवालों
की
तरफ
से
कहा
जा
रहा
था
कि
राजू
की
तबीयत
में
सुधार
हो
रहा
है।
हालांकि,
डॉक्‍टरों
ने
उन्‍हें
ब्रेन
डेड
घोष‍ित
कर
दिया
था।
बीच
में
उन्‍हें
इंफेक्शन
की
वजह
से
तेज
बुखार
भी
आया
था।
मीडिया
रिपोर्ट
के
अनुसार
डॉक्टरों
ने
राजू
श्रीवास्तव
के
सिर
का
सीटी
स्कैन
कराया
था
तो
दिमाग
के
एक
हिस्से
में
सूजन
मिली
थी।
15
दिन
बाद
जानकारी
मिली
कि
उन्होंने
अपना
एक
पैर
मोड़ा
था,
लेकिन
उन्हें
होश
नहीं
आया
और
उनका
ब्रेन
भी
रेस्पॉन्स
नहीं
कर
रहा
था।

हार्ट के बड़े हिस्से में था ब्लॉकेज

हार्ट
के
बड़े
हिस्से
में
था
ब्लॉकेज

दिल्ली
के
एम्स
में
राजू
की
एंजियोप्लास्टी
भी
की
गई
थी,
जिसमें
हार्ट
के
एक
बड़े
हिस्से
में
100
प्रतिशत
ब्लॉकेज
मिला
था।
जानाकरी
के
अनुसार
राजू
श्रीवास्तव
अपने
पीछे
परिवार
में
पत्नी
शिखा,
बेटी
अंतरा,
बेटा
आयुष्मान,
बडे़
भाई
सीपी
श्रीवास्तव,
छोटे
भाई
दीपू
श्रीवास्तव,
भतीजे
मयंक
और
मृदुल
को
छोड़
गए
हैं।
उनका
पूरा
परिवार
फिलहाल
दिल्‍ली
में
ही
है।

ब्रेन
तक
ऑक्‍सीजन
सप्‍लाई
की
समस्‍या

आपको
बता
दें
कि
राजू
श्रीवास्‍तव
एम्‍स
में
अच्छे
डॉक्‍टरों
की
टीम
की
निगरानी
में
थे।
डॉक्टरों
की
मानें
तो
उनके
मौत
के
कारण
की
सबसे
बड़ी
वजह
उनके
ब्रेन
तक
ऑक्‍सीजन
सप्‍लाई
का
सही
से

होना
है।
डॉक्‍टरों
को
उम्‍मीद
थी
कि
लगातार
मैनुअल
ऑक्‍सीजन
सप्‍लाई
से
एक
समय
ब्रेन
के
सेल्‍स
खुद
काम
करना
शुरू
कर
देंगे
लेकिन
ऐसा
नहीं
हो
पाया
और
ब्रेन
में
सही
से
ऑक्सीजन

पहुंचने
की
वजह
से
उनकी
मौत
हो
गई।
मीडिया
रिपोर्ट्स
में
बताया
गया
है
कि
डॉक्टरों
ने
ब्रेन
डेड
होने
के
साथ-साथ
यह
भी
कह
दिया
था
कि
उनका
हार्ट
भी
काम
नहीं
कर
रहा
है।
ऐसे
में
डॉक्टरों
ने
उनकी
फैमिली
को
जवाब
दे
दिया
था।

राजू श्रीवास्‍तव के सिर की एक नस दबी हुई थी

राजू
श्रीवास्‍तव
के
सिर
की
एक
नस
दबी
हुई
थी

कॉमेडियन
राजू
श्रीवास्तव
को
गत
10
अगस्त
को
दिल्ली
के
एक
होटल
में
जिम
में
वर्कआउट
कर
रहे
थे।
उसी
दौरान
उन्हें
हार्ट
अटैक
आया
जिसके
बाद
उन्हें
दिल्ली
के
एम्स
में
भर्ती
कराया
गया
था।
दिल्ली
एम्स
में
भर्ती
होने
के
बाद
से
उनकी
हालत
नाजुक
बताई
जा
रही
थी।
राजू
को
आईसीयू
में
वेंटीलेटर
सपोर्ट
पर
रखा
गया
था।
बताया
जा
रहा
था
कि
उनके
ब्रेन
ने
काम
करना
बंद
कर
दिया
था।
इलाज
के
दौरान
डॉक्टरों
ने
दो
स्टेंट
लगाए
थे।
इसके
बाद
13
अगस्त
को
हुए
एमआरआई
में
राजू
श्रीवास्तव
के
सिर
की
एक
नस
दबी
होने
की
बात
भी
बताई
गई
थी।

मल्‍टीपल ऑर्गन फेल्‍योर

मल्‍टीपल
ऑर्गन
फेल्‍योर

डॉक्टरों
की
तरफ
से
राजू
श्रीवास्तव
के
निधन
की
वजह
ब्रेन
में
ऑक्‍सीजन
नहीं
पहुंचना
और
मल्टीपल
ऑर्गन
फेल्योर
बताया
जा
रहा
है।
मल्टीपल
ऑर्गन
फेल्योर
यानी
जब
शरीर
के
दो
से
ज्यादा
अंग
काम
करना
बंद
कर
देते
हैं।
इसे
मल्टीपल
ऑर्गन
डिसफंक्शन
सिंड्रोम
भी
कहते
हैं
जो
अधिकतर
मामलों
में
जानलेवा
साबित
होता
है
और
राजू
श्रीवास्तव
के
केस
में
भी
यही
हुआ
है।

इसे भी पढ़ेंःराजू श्रीवास्तव ने मौत से पहले ही वीडियो में कह दी थी यमराज की बात, बोले- वो अगर लेने आए तो...इसे
भी
पढ़ेंःराजू
श्रीवास्तव
ने
मौत
से
पहले
ही
वीडियो
में
कह
दी
थी
यमराज
की
बात,
बोले-
वो
अगर
लेने
आए
तो…

राजू श्रीवास्तव को थी हार्ट से जुड़ी समस्या

राजू
श्रीवास्तव
को
थी
हार्ट
से
जुड़ी
समस्या

मीडिया
रिपोर्ट
के
अनुसार
राजू
श्रीवास्तव
को
हार्ट
से
जुड़ी
समस्या
पहले
भी
हो
चुकी
थी।
बताया
जाता
है
कि
हार्ट
की
तकलीफ
की
वजह
से
पहली
बार
उन्हें
10
साल
पहले
मुंबई
के
कोकिलाबेन
अस्पताल
में
भर्ती
कराया
गया
था।
वहीं
दूसरी
बार
7
साल
पहले
राजू
श्रीवास्तव
हार्ट
की
समस्या
के
चलते
ही
मुंबई
के
लीलावती
अस्पताल
में
भी
भर्ती
हुए
थे।
आपको
बता
दें
कि
हार्ट
की
समस्या
दिखाई
देने
के
बाद
इलाज
के
दौरान
स्टेंट
भी
डाला
गया
था।

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.