पाकिस्तान में राजनीतिक संकट के लिए इमरान खान जिम्मेदार, बिलावल का तंज, दुनिया पूर्व PM को नजरअंदाज करके खुश! | Bilawal Bhutto Zardari blamed Imran Khan for the worsening political crisis in pakistan

पाकिस्तान में राजनीतिक संकट के लिए इमरान जिम्मेदार,बोले बिलावल

पाकिस्तान
में
राजनीतिक
संकट
के
लिए
इमरान
जिम्मेदार,बोले
बिलावल

अमेरिका
में
आयोजित
एक
कार्यक्रम
में
बिलावल
भुट्टो
जरदारी
ने
इमरान
खान
पर
आरोपों
की
बौछार
लगा
दी।
बिलावल
ने
पाकिस्तान
की
राजनीति
में
जहरीले
ध्रवीकरण
के
बारे
में
पूछे
गए
सवाल
का
जवाब
देते
हुए
कहा
कि
पाकिस्तान
में
राजनीति
विनाशकारी
है।
उन्होंने
जोर
देकर
फिर
से
कहा
कि
पाकिस्तान
की
घरेलू
राजनीति
अविश्वसनीय
रूप
से
विनाशकारी
है।

लोकतंत्र कहीं भी सुंदर नहीं है

लोकतंत्र
कहीं
भी
सुंदर
नहीं
है

बिलावल
भुट्टो
ने
लोकतांत्रिक
व्यवस्था
पर
सवाल
खड़े
करते
हुए
कहा
कि,
लोकतंत्र
तभी
काम
करता
है
जब
आप
सबकी
इसमें
सहभागिता
हो।
इसलिए
यह
इतना
सुंदर
नहीं
है।
लोकतंत्र
कहीं
भी
सुंदर
नहीं
है।
राजनीतिक
रैलियों
के
लिए
पीटीआई
प्रमुख
की
आलोचना
करते
हुए,
पाकिस्तान
के
विदेश
मंत्री
ने
इमरान
खान
को
लोकतंत्र
और
लोकतांत्रिक
संस्थानों
का
सम्मान
करने
की
सलाह
दे
दी।
बिलावल
ने
कार्यक्रम
के
दौरान
एक
बयान
में
कहा,
“इमरान
खान
को
मेरी
सलाह
होगी…लोकतंत्र
का
सम्मान
करें,
लोकतांत्रिक
संस्थानों
का
सम्मान
करें
और
अपना
काम
करें।”

क्यों हुए इमरान सत्ता से बाहर?

क्यों
हुए
इमरान
सत्ता
से
बाहर?

इमरान
खान
देश
के
उन
नेताओं
में
से
एक
हैं
जिन्हें
अपना
कार्यकाल
पूरा
करने
से
पहले
ही
बाहर
कर
दिया
गया
था।
सबसे
पहले,
उन्होंने
मुत्ताहिदा
कौमी
मूवमेंट-पाकिस्तान
(एमक्यूएम-पी),
एक
प्रमुख
सहयोगी,
सरकार
पर
आर्थिक
कुप्रबंधन
का
आरोप
लगाते
हुए
गठबंधन
से
बाहर
निकलने
के
बाद
नेशनल
असेंबली
में
अपना
बहुमत
खो
दिया।
इसके
बाद
विपक्ष
ने
उन्हें
हटाने
की
मांग
को
लेकर
संसद
में
अविश्वास
प्रस्ताव
पेश
किया
था।

अमेरिका पर साजिश करने का आरोप

अमेरिका
पर
साजिश
करने
का
आरोप

पीएम
की
कुर्सी
गंवाने
के
बाद,इमरान
खान
ने
राष्ट्रपति
से
विधानसभाओं
को
भंग
करने
और
उन्हें
सत्ता
से
बेदखल
करने
के
लिए
नेशनल
असेंबली
में
पेश
किए
गए
अविश्वास
मत
को
अवरुद्ध
करने
के
लिए
देश
में
नए
चुनाव
कराने
का
आग्रह
किया
था।
हालांकि,
राष्ट्रपति
ने
इसके
बजाय
देश
की
संसद
को
ही
भंग
कर
दिया।
सबसे
बड़ी
बात
यह
भी
रही
कि
इमरान
की
विदेश
नीति
पाकिस्तानी
सेना
के
अनुरूप
नहीं
थी
जो
अमेरिका
को
अपने
पक्ष
में
चाहती
थी।
हालांकि,
इमरान
खान
ने
हमेशा
अपने
खिलाफ
अमेरिका
के
नेतृत्व
वाली
विदेशी
साजिश
की
निंदा
की
है।

अमेरिका और पाकिस्तान संबंध

अमेरिका
और
पाकिस्तान
संबंध

बता
दें
कि,
इस
साल
अप्रैल
में
पाकिस्तान
के
पूर्व
प्रधानमंत्री
इमरान
खान
को
सत्ता
से
बेदखल
किए
जाने
के
बाद
से
लड़खड़ाते
हुए
अमेरिका-पाक
संबंधों
को
और
मजबूती
मिली
है।
खान
ने
बाइडेन
प्रशासन
पर
उनके
खिलाफ
साजिश
रचने
का
आरोप
लगाया
था।

अमेरिका के कदम से भारत नाराज

अमेरिका
के
कदम
से
भारत
नाराज

हाल
ही
में,
अमेरिकी
विदेश
विभाग
ने
पाकिस्तान
वायु
सेना
F-16
बेड़े
की
स्थिरता
के
लिए
पाकिस्तानी
सरकार
को
एक
विदेशी
सैन्य
बिक्री
(FMS)
को
मंजूरी
दी
है।
हालांकि,
अमेरिका
के
इस
कदम
से
भारत
काफी
नाराज
है।


(Photo
Credit
:
Twitter
&
PTI)

ये भी पढ़ें :सिख टीचर को जबरन बनाया मुस्लिम तो भारत हुआ नाराज, पाकिस्तान को लगाई जमकर फटकारये
भी
पढ़ें
:सिख
टीचर
को
जबरन
बनाया
मुस्लिम
तो
भारत
हुआ
नाराज,
पाकिस्तान
को
लगाई
जमकर
फटकार

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.