बस स्‍टॉप पर लड़के-लड़कियां के बैठने के लिए की गई अलग-अलग व्‍यवस्‍था, मेयर ने उठाया ये सख्‍त कदम | Separate arrangement made for the boys and girls waiting at the bus stop, the municipal corporation broke

त्रिवेद्रम, 20 सितंबर। साक्षरता के मामले में देश में नबंर वन राज्‍य केरल से चौंका देने वाला मामला सामने आया है। पहले बता दें NSO रिपोर्ट:96.2% साक्षरता दर के साथ केरल देश का सबसे साक्षर राज्य है उसी राज्‍य के शहर त्रिवेद्रम के बस स्‍टाप पर लड़के और लड़कियों के बैठने के लिए अलग-अलग व्‍यवस्‍था की गई। जिसके बाद वहां के मेयर ने जो फैसला लिया वो एक मिशाल है।

बस स्टैंड जहां स्थानीय लोगों द्वारा बेंच को 3 में विभाजित किया गया था इसके पीछे उद्देश्‍य था कि कथित तौर पर वहां लोग नहीं चाहते थे कि बस का इंतजार करते समय लड़के-लड़कियां एक साथ बैठें।

इस कदम के बाद इस बस स्‍टाप पर लड़कियों ने छात्रों ने कथित तौर पर एक-दूसरे की गोद में बैठकर बंटवारे का विरोध किया। जिसके बाद नगर पालिका ने बड़ा कदम उठाते हुए बस स्‍टाप पर किए गए इस विभाजन को ध्वस्त कर दिया गया था। वहां पर एक अब एक नया बस स्‍टॉप बनाया जाएगा।

मेयर आर्य राजेंद्रन ने कहा कि एक जेंडर न्यूट्रल बस स्‍टॉप का निर्माण जल्द शुरू होग। उन्‍होंने बताया बस शेल्टर का डिजाइन अंतिम चरण में है और एक बार पूरा हो जाने के बाद काम दो सप्ताह में पूरा हो जाएगा।

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.