‘मुझे क्या पता था…’,पीएम आवास के चैक बांटने पूर्व सीएम के आवास जाऊँगा तो हो जाएगा ट्रांसफर | nigam Commissioner Bhopal attached checks of PM Awas Yojana distributed from Kamal Nath’s house

‘मैं किस किस की सुनों...’

‘मैं किस किस की सुनों…’

एमपी के छिंदवाड़ा नगर निगम कमिश्नर हिमांशु सिंह की आख़िरकार छिंदवाड़ा से छुट्टी हो ही गई। उन्हें राजधानी भोपाल में अटैच कर उनकी जगह सागर स्मार्ट सिटी के सीईओ राहुल सिंह को नगर निगम छिंदवाड़ा की कमान सौंपीं गई । अचानक हुआ तबादला हिमांशु की समझ में नहीं आ रहा। वह इतनी हिम्मत भी नहीं जुटा पा रहे कि दिल के अंदर तबादले का दर्द खुलकर बयां कर । क्योकि छिंदवाड़ा पूर्व सीएम कमलनाथ का गढ़ है और उनकी तूती बोलती है, दूसरी तरफ प्रदेश में सरकार भाजपा की हैं। बीच मझधार में हिमांशु को कमिश्नर की कुर्सी से हाथ धोना पड़ा।

पूर्व सीएम कमलनाथ के आवास पहुंचे थे चैक बांटने

पूर्व सीएम कमलनाथ के आवास पहुंचे थे चैक बांटने

दरअसल इस तबादले के पीछे की वजह हिमांशु के कमलनाथ के घर जाना बताया जा रहा है। जहां पिछले दिनों पीएम आवास योजना के हितग्राहियों के चेक वितरित किए गए थे। इसकी तस्वीरें सामने आने के बाद स्थानीय भाजपाई नेताओं को हिमांशु की यह हरकत रास नहीं आई। भाजपा द्वारा आवास योजना के तहत अतिरिक्त राशि देने के कमिश्नर पर आरोप भी लगाए गए थे। इस सिलसिले में प्रभारी मंत्री कमल पटेल ने उनसे राशि वितरण के संबंध में वजह भी पूछी थी।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा से की गई थी शिकायत

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा से की गई थी शिकायत

बताया जाता है कि नगर निगम में इस बार कांग्रेस महापौर विक्रम आहके है। जो पूर्व सीएम कमलनाथ के बेहद ख़ास है। मेयर के कहने पर ही कमिश्नर हिमांशु सिंह ने कमलनाथ के आवास पर हितग्राहियों को पीएम आवास योजना के चैक बांटने का कार्यक्रम रखा। जिसका भाजपा विरोध कर रही। शहर में जब बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा पहुंचे तो पार्टी के जिला अध्यक्ष विवेक बंटी साहू ने कमिश्नर के रवैये की शिकायत की । उसके बाद ही सरकार ने हिमांशु सिंह का भोपाल तबादला कर दिया।

कांग्रेस ने बताया इसे तानाशाही

कांग्रेस ने बताया इसे तानाशाही

छिंदवाड़ा नगर निगम कमिश्नर रहे हिमांशु सिंह के भोपाल अटैचमेंट की कार्रवाई पर अब सियासत भी गरमा रही है। कांग्रेस ने इसे सरकार की तानाशाही करार दिया है। कहा जा रहा है कि भाजपा सरकार ने सरकारी तंत्र को कठपुतली बना लिया है। उसके नेता चाहते है कि नौकरशाह उनके इशारे पर नाचते रहे। जनता से जुड़ी हितग्राही मूलक योजनाओं के चैक भी अब तभी वितरित होंगे जब बीजेपी नेता ऑर्डर करेंगे।

भाजपा ने कहा अनुशासन जरुरी, हिमांशु ने साधी चुप्पी

भाजपा ने कहा अनुशासन जरुरी, हिमांशु ने साधी चुप्पी

इधर छिंदवाड़ा बीजेपी जिला अध्यक्ष विवेक बंटी साहू से जब इस मसले पर प्रतिक्रिया जानना चाही तो उनका कहना था कि ब्यूरोक्रेसी में व्यवस्था अपने ढंग से चलती है। किसी के कहने पर जबरदस्ती किसी अधिकारी का तबादला या उसके निलंबन का आरोप गलत है। विवेक बोले कि इतना जरुर है कि भाजपा सरकार अनुशासन को तबज्जो देती है, लिहाजा अधिकारियों को इस बात का ख्याल रखते हुए ही अपनी हर जिम्मेदारी निभाना चाहिए।

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.