यमराज से छीन लाई अपने पति की सांसें, शख्स को आया हार्ट अटैक, पत्नी ने यूं दी नई जिंदगी | wife gives CPR to husband save him life heart attack RPF mathura railway station

ट्रेन में आया हार्ट अटैक

ट्रेन में आया हार्ट अटैक

शुक्रवार रात करीब 12 बजे का है। निज़ामुद्दीन तिरुअनंतपुरम सुपरफास्ट एक्सप्रेस में चेन्नई निवासी 67 वर्षीय केशवन अपनी पत्नी दया के साथ कोच B4 में सफर कर रहे थे। चलती ट्रेन में अचानक केशवन की तबीयत बिगड़ गई। तबीयत बिगड़ने की सूचना आरपीएफ को दी गई। स्टेशन पर ट्रेन के रुकते ही यात्री को प्लेटफॉर्म पर लाया गया, लेकिन तब तक उनकी सांसें उखड़ने लगी थीं। केशवन अपनी पत्नी दया के साथ दिल्ली से कोझिकोड जा रहे थे।

पत्नी ने सीपीआर देकर लौटाई सांसे

पत्नी ने सीपीआर देकर लौटाई सांसे

सूचना मिलने पर मौके पर आरपीएफ सिपाही अशोक कुमार ने केशवन की पत्नी से कहा कि वे अपने पति को सीपीआर यानी मुंह से सांस दें। जिसके बाद दया ने अपने पति को मुंह से सांस देने शुरू किया। इसके बाद पत्नी करीब आधा मिनट तक सीपीआर देकर पति को मौत के मुंह से खींच लाईं। इस दौरान जवान यात्री के हार्ट की पंपिग करता करा। वहीं मौके पर मौजूद अन्य यात्री हाथ और पैरों को मलते रहे।

एंबुलेंस से पहुंचाया अस्पताल

एंबुलेंस से पहुंचाया अस्पताल

वहीं आरपीएफ के जवानों ने कंट्रोल रूम में सूचना भेज एंबुलेंस की मदद मांगी। सीपीआर के बाद जब यात्री का हालत में सुधार हुआ तो सीआरपीएफ जवान केशवन को स्ट्रेचर से बाहर लाकर एंबुलेंस से रेलवे अस्पताल भेजा गया। जहां डॉक्टरों ने गंभीर हालत देखकर रेफर कर दिया। इसके बाद जवानों ने उन्हें मथुरा के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया।

चार धाम की यात्रा से लौट रहे थे दंपति

केशवन को तुरंत इलाज मिलने से उनकी जान बच गई। फिलहाल वह खतरे बाहर हैं। केशवन की पत्नी दया ने बताया कि हम केरल जिले के कासरगोड के रहने वाले हैं। वे चार धाम यात्रा पर उत्तराखंड गए थे। केशवन का बेटा नीरज भी सहारनपुर में डॉक्टर है। सूचना मिलने पर वह भी मथुरा पहुंच गया है।


Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.