राजस्थान में सियासी ड्रामा रचने वाले नेताओं पर गिरी नोटिस की गाज, पार्टी ने धारीवाल, जोशी और राठौड़ से जवाब तलब | Notice fell leaders created political drama Rajasthan, party called answers Dhariwal, Joshi and Rathod

माकन की रिपोर्ट में सामने आई अनुशासनहीनता

माकन
की
रिपोर्ट
में
सामने
आई
अनुशासनहीनता

कांग्रेस
पार्टी
द्वारा
राजस्थान
के
नेताओं
को
जारी
नोटिस
में
कहा
गया
कि
पार्टी
के
पर्यवेक्षक
अजय
माकन
द्वारा
कांग्रेस
अध्यक्ष
सोनिया
गांधी
को
सौंपी
गई
रिपोर्ट
में
आपकी
घोर
अनुशासनहीनता
की
रिपोर्ट
की
गई
है।
पार्टी
की
ओर
से
आधिकारिक
तौर
पर
नियुक्त
पर्यवेक्षकों
द्वारा
बुलाई
गई।
विधायक
दल
की
बैठक
में
आपका
इंतजार
किया
गया।
उस
दौरान
आप
गैर
औपचारिक
और
अवैध
मीटिंग
में
मौजूद
रहे।
इससे
अन्य
विधायकों
पर
भी
असर
पड़ा।
उन्हें
यह
समझ
नहीं
आया
कि
अधिकृत
बैठक
कौन
सी
है।
यह
सब
घटनाक्रम
तब
हुआ
जब
मलिकार्जुन
खड़गे
और
अजय
माकन
ने
बार-बार
दोहराते
हुए
स्पष्ट
किया
कि
वह
हर
विधायक
से
व्यक्तिगत
रूप
से
बात
करने
आए
हैं।
इस
पूरे
घटनाक्रम
की
रिपोर्ट
कांग्रेस
अध्यक्ष
सोनिया
गांधी
को
देनी
है।
इसे
लेकर
तत्काल
कोई
फैसला
नहीं
किया
जाएगा।
विधायकों
की
राय
जानने
के
बाद
कांग्रेस
अध्यक्ष
द्वारा
इसे
डिस्कस
किया
जाएगा।
तब
सोच
समझ
कर
एक
अच्छा
फैसला
लिया
जाएगा।
बावजूद
इसके
पैरलल
बैठक
करना
और
ऑफिशियल
विधायक
दल
की
बैठक
में
नहीं
पहुंचना
अनुशासनहीनता
है।

कांग्रेस नेताओं पर पार्टी ने लगाए ये आरोप

कांग्रेस
नेताओं
पर
पार्टी
ने
लगाए
ये
आरोप

राजस्थान
के
कांग्रेस
नेताओं
को
जारी
नोटिस
में
पार्टी
ने
अलग-अलग
आरोप
लगाए
हैं।
शांति
धारीवाल
पर
संसदीय
कार्य
मंत्री
होने
पर
स्टेटमेंट
जारी
करने
के
साथ
ही
अपने
आवास
पर
विधायक
दल
की
बैठक
के
पहले
विधायकों
की
बैठक
आयोजित
करने
और
पार्टी
के
अधिकृत
बैठक
में
शामिल
नहीं
होने
का
दबाव
बनाने
का
आरोप
लगाया
गया
है।
महेश
जोशी
पर
मुख्य
सचेतक
होने
के
बावजूद
विधायक
दल
की
बैठक
में
नहीं
पहुंचने
और
ऑफिशियल
बैठक
का
बॉयकॉट
करने
का
आरोप
है।
वहीं
धर्मेंद्र
राठौड़
पर
आरटीडीसी
चेयरमैन
होने
और
पीसीसी
का
सदस्य
होने
के
बावजूद
विधायक
दल
की
अधिकृत
बैठक
के
पहले
बैठक
की
व्यवस्थाएं
करने
और
विधायकों
की
अनाधिकृत
बैठक
की
योजना
बनाने
का
आरोप
है।
इन
नेताओं
को
10
दिन
में
अपना
जवाब
पार्टी
को
सौंपना
है।

महेश जोशी बोले सत्य और अन्याय के लिए लड़ेंगे लड़ाई

महेश
जोशी
बोले
सत्य
और
अन्याय
के
लिए
लड़ेंगे
लड़ाई

पार्टी
द्वारा
राजस्थान
के
नेताओं
को
जारी
नोटिस
पर
मंत्री
महेश
जोशी
ने
प्रतिक्रिया
करते
हुए
कहा
कि
नोटिस
अभी
तक
मेरे
हाथ
में
नहीं
आया
है।
मैंने
सुना
है
कि
नोटिस
जारी
हो
गया
है।
पार्टी
का
नोटिस
हमारे
हाथ
में
आने
से
पहले
मीडिया
को
मिल
गया।
यह
हैरान
करने
वाली
बात
है।
राहुल
गांधी
और
सोनिया
गांधी
के
हम
सिपाही
हैं।
सत्य
और
अन्याय
के
लिए
हम
लड़ाई
लड़ेंगे।
पार्टी
के
हित
में
जो
भी
होगा
वह
करेंगे।
पूरे
सम्मान
से
संतुष्टि
पूर्ण
जवाब
आलाकमान
को
सौंपेंगे।

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.