शिवपुरी में ताजिया के जुलूस में गाया गया ‘राम भजन’, हिंदू मुस्लिम एकता की दिखी झलक | ram bhajan sung in procession of taziye in shivpuri

कोलारस में निकाला गया था ताजियों का जुलूस

कोलारस में निकाला गया था ताजियों का जुलूस

शिवपुरी के कोलारस में ताजिया का जुलूस निकाला गया था। इस जुलूस में बड़ी संख्या में हिंदू धर्म के लोग भी शामिल हुए थे। जुलूस में बैंड बाजे का भी इंतजाम किया गया था। मुस्लिम समाज के गायक कलाकार मोहम्मद रिजवान अख्तर हुसैन द्वारा अपनी प्रस्तुतियां भी दी जा रही थीं।

हिंदू लोगों ने की राम भजन की फरमाइश

हिंदू लोगों ने की राम भजन की फरमाइश

ताजिया के जुलूस के दौरान जुलूस में शामिल हिंदू धर्म के लोगों ने गायक कलाकार मोहम्मद रिजवान अख्तर हुसैन से फरमाइश की कि वे राम भजन भी सुनाएं। मोहम्मद रिजवान अख्तर हुसैन ने इस बात की जानकारी पहले कमेटी को बताई। कमेटी ने हिंदुओं की मांग सुनते ही उस पर अपनी रजामंदी दे दी। जिसके बाद मोहम्मद रिजवान अख्तर हुसैन ने ताजिया के जुलूस में राम भजन गाया।

राम भजन में डूबे सभी भक्तगण

राम भजन में डूबे सभी भक्तगण

गायक कलाकार द्वारा रामानंद सागर द्वारा निर्मित सीरियल रामायण के लव कुश कांड का वह भजन गाया गया जो लव कुश द्वारा भगवान राम के दरबार में गाया गया था। ‘हम कथा सुनाते’ भजन गाते ही वहां मौजूद हर शख्स भगवान की भक्ति में झूमता हुआ नजर आया।

कोलारस में आयोजित ताजिया के जुलूस में शामिल होते हैं आसपास के जिलों के लोग

कोलारस में आयोजित ताजिया के जुलूस में शामिल होते हैं आसपास के जिलों के लोग

कोलारस में बीते कई सालों से ताजिया का जुलूस निकाला जाता रहा है। ताजिया के जुलूस में शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में हिंदू धर्म के लोग भी पहुंचते हैं। कोलारस में आयोजित इस ताजिया के जुलूस में ग्वालियर, अशोकनगर, शिवपुरी और श्योपुर से भी बड़ी संख्या में लोग पहुंचते हैं और ताजिया के जुलूस में शामिल होते हैं। खास बात यह है कि जुलूस में बड़ी संख्या में हिंदू धर्म के लोग भी शामिल हो होते हैं।

बचपन से भजन गा रहे हैं गायक कलाकार मोहम्मद रिजवान अख्तर हुसैन

बचपन से भजन गा रहे हैं गायक कलाकार मोहम्मद रिजवान अख्तर हुसैन

गायक कलाकार मोहम्मद रिजवान अख्तर हुसैन ने बताया कि वे बचपन से ही भजन गा रहे हैं। उनके पिता भी गायक ही थे। हिन्दू भाईयों ने जब फरमाइश की तो वे इसके लिए तुरंत राजी हो गए। गायक कलाकार मोहम्मद रिजवान अख्तर हुसैन बताते हैं कि यहां हिन्दू-मुस्लिम एकता देखकर उन्हें काफी अच्छा महसूस होता है।

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.