समानांतर कमेटी का मामला झामुमो केंद्रीय कमेटी में उठा, केंद्रीय नेतृत्व ने लिया संज्ञान | The issue of parallel committee was raised in the JMM Central Committee, the central leadership took cognizance


Samachar

oi-Foziya Khan

|

Google Oneindia News

रांची,9 अक्टूबरः धनबाद: धनबाद जिले के सभी प्रखंडों में झामुमो की समानांतर कमेटी चलने का मामला शुक्रवार को रांची में आयोजित झामुमो की विस्तारित केंद्रीय कमेटी की बैठक में उठा। पहली बार खुले मंच से पार्टी नेतृत्व ने स्वीकार किया कि धनबाद जिला झामुमो में विवाद है। इसे खुद पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने संज्ञान लिया है। इसी महीने संभवत: 10 अक्टूबर को रांची में इस मुद्दे को सुलझाने के लिए बैठक बुलाई जाएगी। इस बैठक में धनबाद जिलाध्यक्ष, सचिव, दोनों गुटों के प्रखंड अध्यक्ष व सचिव के अलावा धनबाद के सभी केंद्रीय कमेटी के सदस्य इसमें शामिल होंगे। सूत्रों के अनुसार यह साफ संदेश अध्यक्ष व सचिव को पार्टी ने दे दिया है कि या तो दोनों इस बैठक में समझौता करें या फिर दोनों की कुर्सी छीन ली जाएगी।

jharkhand

यह है मामला : विधानसभा चुनाव के बाद जिलाध्यक्ष रमेश टुडू एवं जिला सचिव पवन महतो के बीच विवाद हो गया था। इस विवाद के बीच दोनों ने जिले के सभी आठ प्रखंडों के लिए अपनी-अपनी कमेटी बना ली। कमेटी की सूची अनुमोदन के लिए केंद्रीय नेतृत्व को भेज दिया। केंद्रीय नेतृत्व ने विवाद को देखते हुए किसी भी कमेटी को अपनी मंजूरी नहीं दी। इसका नतीजा हुआ कि प्रखंडों में समानांतर कमेटी करीब ढ़ाई साल से काम कर रही है। पूरी पार्टी दो गुटों में बंट गई।

अध्यक्ष व सचिव अपनी-अपनी कमेटी को वैध ठहराते हैं। झामुमो केंद्रीय कमेटी की विस्तारित बैठक में जिलाध्यक्ष व जिला सचिव के साथ-साथ प्रखंड अध्यक्ष व प्रखंड सचिव को भी आमंत्रित किया गया है। धनबाद जिला के साथ समस्या यह थी कि प्रखंडों में दो-दो कमेटी संचालित है। सवाल उठ रहा था कि किस कमेटी को इस बैठक में एंट्री मिलेगी। इसी से असली-नकली का फैसला हो जाएगा।

प्रखंड अध्यक्ष व सचिव के साथ पहुंचे थे जिलाध्यक्ष व सचिव :

केंद्रीय कमेटी की विस्तारित बैठक में शामिल होने के लिए जिलाध्यक्ष रमेश टुडू व जिला सचिव पवन महतो अपने-अपने प्रखंड अध्यक्ष व सचिव के साथ रांची पहुंचे थे। रमेश टुडू व पवन महतो की तो बैठक में एंट्री हो गई लेकिन, दोनों के प्रखंड अध्यक्ष व सचिव को बाहर रोक दिया गया। केंद्रीय महासचिव विनोद पांडेय ने साफ कह दिया कि धनबाद में विवाद है। मुख्यमंत्री से बात हो गई है। इस पर बाद में बैठक होगी। इसके बाद बड़ी मुश्किल से पवन महतो के कुछ प्रखंडों के अध्यक्ष व सचिव को अंदर आने दिया गया। फिर रमेश टुडू ने काफी जोर लगाया। इसके बाद उनके भी कुछ लोगों की मुश्किल से एंट्री हुई।

धनबाद जिला झामुमो में विवाद की बात सामने आई है। पार्टी ने इसे संज्ञान में लिया है। शीघ्र ही जिलाध्यक्ष, सचिव एवं धनबाद के केंद्रीय कमेटी सदस्यों को रांची बुलाकर बात की जाएगी। हर हाल में विवाद को सुलझाया जाएगा। जहां तक आज की बैठक का सवाल है तो सभी की एंट्री दी गई थी।

English summary

The issue of parallel committee was raised in the JMM Central Committee, the central leadership took cognizance

Story first published: Sunday, October 9, 2022, 18:11 [IST]



Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.