हरियाणा : भ्रष्टाचार पर सरकार की कार्रवाई, विजिलेंस के एक्शन से करनाल में हड़कंप | Vigilance’s swift action on corrupt in Haryana, maximum officers of Karnal trapped


Samachar

oi-Bavita Jha

|

Google Oneindia News

करनाल। भ्रष्टाचार को लेकर हरियाणा सरकार ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। भ्रष्टाचार को लेकर हरियाणा सरकार की जीरो टालरेंस के चलते विजिलेंस टीम की कर्रवाई तेज हो गई है। सीएम सिटी करनाल में विजिलेंस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई की है, जबकि प्रदेश में साल 2022 में अब तक 175 एफआइआर विजिलेंस के अलग-अलग रेंज में दर्ज की जा चुकी हैं। इन में रंगे हाथों रिश्वत लेते और प्रोजेक्टों में हुए खेल के लगे आरोपों में भी एफआइआर दर्ज हुई हैं, जिनमें से कुछ मामलों में अभी गिरफ्तारियां बाकी हैं।

 Vigilances swift action on corrupt in Haryana, maximum officers of Karnal trapped

इन दर्ज एफआइआर में करनाल रेंज का आंकड़ा सबसे अधिक है, जबकि दूसरे नंबर पर गुरुग्राम है। करनाल रेंज के अधीन पानीपत और जींद जिला आता है। इस रेंज के अधिकारियों ने अपना नेटवर्क इस कदर मजबूत कर लिया है कि इस में ताबड़तोड़ कार्रवाई हुई हैं। यही कारण है कि इस रेंज में डीटीपी, तहसीलदार सहित कई अधिकारी सलाखों के पीछे जा चुके हैं। प्रदेश में 90 से अधिक अधिकारी अथवा कर्मी भ्रष्टाचार के मुकदमों में गिरफ्तार हो चुके हैं। इन में आबकारी एवं कराधान विभाग, पुलिस विभाग, बिजली निगम, राजस्व विभाग, नगर निगम, एचएसवीपी आदि विभाग शामिल हैं।

प्रदेश की विजिलेंस को प्रदेश में सात रेंज में बांटा गया है। हिसार में भिवानी, फतेहाबाद, सिरसा और चरखीदादरी आता है। इस रेंज में जनवरी से सितंबर 2022 तक 23 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। इसी प्रकार पंचकूला रेंज में यमुनानगर आता है, जहां पर एफआइआर दर्ज होने का आंकड़ा सबसे कम यानी दस ही रहा है।

English summary

Vigilance’s swift action on corrupt in Haryana, maximum officers of Karnal trapped

Story first published: Sunday, October 2, 2022, 19:32 [IST]



Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.