हेमंत का सीधा वार, कहा- हम काम कर रहे तो हम पर पागलों की तरह हमले कर रहा विपक्ष | Hemant’s direct attack, said- if we are working then the opposition is attacking us like crazy

Samachar

oi-Foziya Khan

|

Google Oneindia News

रांची,21 सितंबरः झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन अब विरोधियों को खुलकर आड़े हाथों ले रहे हैं। मंगलवार को दोपहर बाद उन्‍होंने साहिबगंज के एसएस हाई स्कूल बरहेट मैदान व गोड्डा बोआरीजोर के भालगोड़ा मैदान में लोगों को संबोधित किया। इस दौरान कहा कि राज्य में सुखाड़ की स्थिति गंभीर है। धान की खेती नहीं हो पाई है। बावजूद लोग चिंता न करें। सरकार हर सुख-दुख में आपके साथ है।

hemant

मुख्‍यमंत्री ने सिदो कान्हू तथा चांद भैरव की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कहा कि एक साल से विकास के काम हो रहे हैं। इनकी गति और तेज होगी। 20 साल में राज्य किस दिशा में जाएगा, इस पर योजना भी नहीं बनी थी। कर्मियों से सरकार काम ले रही थी, उनके दर्द पर मरहम नहीं लगाया जा रहा था। उनकी समस्याओं को दूर किया, पुरानी पेंशन योजना शुरू की। सेविका-सहायिका का मानदेय बढ़ाया। शिक्षकों की समस्या दूर हुई है। अभी बहुत कुछ करना बाकी है। पूर्व की सरकारों के पास लक्ष्य ही नहीं था। अब काम कर रहे तो विपक्ष का माथा खराब है। पागलों की तरह हमला बोल रहा है।

कार्रवाई के वक्‍त भारी संख्या में पुलिस फोर्स भी मौजूद थी।
पार्क मार्केट हीरापुर में चला नगर निगम का बुलडोजर, 40 से अधिक अतिक्रमणकारियों को सड़क से हटाया
यह भी पढ़ें
षड्यंत्र रच रहा विपक्ष, लेकिन सफल नहीं हो पा रहा

हेमंत ने कहा- विपक्ष षड्यंत्र रच रहा है, लेकिन सफल नहीं हो रहा है। 1932 के खतियान पर स्थानीय व नियोजन नीति का प्रस्ताव पारित हुआ तो इनके पेट में दर्द होने लगा। कहने लगे कि हमने तो पहले ही कर दिया था, मगर जान लें कि पहले ऐसा हुआ तो कई की जान गई। आज लोग अबीर-गुलाल लगा रहे। भाजपा के लोग हिंदू, मुस्लिम, सिख व ईसाई को लड़ाकर राजनीतिक रोटी सेंक रहे हैं।

16 नवंबर 2021 को झरिया निवासी अधिवक्ता शिवपुकार सिंह ने तीनों के खिलाफ मुकदमा दायर किया था।
निचली अदालत के आदेश को सत्र न्यायालय में दी चुनौती, कहा- चिदंबरम, खुर्शीद, दिग्विजय के खिलाफ चले मुकदमा
यह भी पढ़ें
बैंकों को आदिवासी-मूलवासी विरोधी बताकर हेमंत ने कहा कि ये ऋण नहीं देते। मुख्यमंत्री स्वजरोजगार योजना में बिना गारंटी पहले 50 हजार रुपये तक ऋण मिलता था, अब एक लाख रुपये मिलेंगे। स्वरोजगार कर अपने पैरों पर खड़े हों, बैंक को ठीक कर देंगे। आप करीबी लोगों को गारंटर बनाकर ऋण लीजिए। झारखंड देश का इकलौता राज्य है जहां सर्वजन पेंशन योजना शुरू की। केंद्र ने राशन नहीं दिया तो अपनी ओर से गरीबों का ग्रीन कार्ड बनवाया। नेतरहाट की तर्ज पर सभी जिले में एक-एक माडल स्कूल खोला जा रहा है। वहां मुफ्त शिक्षा दी जाएगी। जेपीएससी की परीक्षा समय पर हो रही है, गड़बड़ी भी नहीं हो रही। गरीबों के बच्चे अधिकारी बन रहे हैं। सरकार ने राज्य के किसान, मजदूर, कर्मचारी, पुलिसकर्मी, शिक्षक, सेविका-सहायिका के लिए अहम फैसले लिए। स्थानीय और नियोजन नीति को लेकर भी सरकार गंभीरता से बढ़ रही है। इस दौरान राजमहल सांसद विजय हांसदा, महागामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह समेत कई लोग मौजूद थे।

लक्ष्मीकांत वाजपेयी शाम में गोविंदुपर इलाके से होकर शहर में प्रवेश करेंगे।
संताल की नब्‍ज टटोलने के बाद आज दो दिन के धनबाद दौरे पर आ रहे झारखंड के भाजपा प्रभारी लक्ष्‍मीकांत वाजपेयी
यह भी पढ़ें
374 करोड़ की योजनाओं की सौगात

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंगलवार को 374 करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। साहिबगंज के बरहेट में 167.10 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। कई को नियुक्ति पत्र दिए। वहीं बोआरीजोर के भालगोड़ा मेला मैदान में जनता दरबार सह विकास मेला में 207.59 करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। यहां 21 को नियुक्ति पत्र दिए। चार भूमिहीनों को जमीन का पट्टा दिया। 27.01 करोड़ की परिसंपत्तियों का वितरण किया।

English summary

Hemant’s direct attack, said- if we are working then the opposition is attacking us like crazy

Story first published: Wednesday, September 21, 2022, 19:24 [IST]

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.