Aviation Minister: ज्योतिरादित्य सिंधिया का ऐलान, 2024 तक देश के 90 से अधिक एयरपोर्ट कार्बन न्यूट्रल बनेंगे | union-minister jyotiraditya scindia said by 2024 more than 90 airports will become carbon neutral

Samachar

oi-Vinay Saxena

|

Google Oneindia News


नई
दिल्ली,
22
सितंबर:

केंद्रीय
नागरिक
उड्डयन
मंत्री
ज्योतिरादित्य
सिंधिया
ने
मंगलवार
को
कहा
है
कि
देश
के
90
से
अधिक
हवाइ
अड्डे
वर्ष
2024
तक
कार्बन
न्यूट्रल
बन
जाएंगे।
साथ
ही
उन्होंने
यह
भी
कहा
कि
अगले
पांच
वर्षों
में
देश
में
हवाई
अड्डों
की
संख्या
220
तक
पहुंच
जाएगी।
केंन्द्रीय
मंत्री
ने
अखिल
भारतीय
प्रबंधन
संघ
के
राष्ट्रीय
सम्मेलन
के
दौरान
बोलते
हुए
कहा
है
कि
वर्तमान
में
देश
में
141
एयरपोर्ट
हैं।
इनमें
से
कोच्ची
और
दिल्ली
के
एयरपोर्ट
पहले
से
ही
कार्बन
न्यूट्रल
हैं।

union-minister jyotiraditya scindia said by 2024 more than 90 airports will become carbon neutral

उन्होंने
कहा
कि
जब
मैंने
उड्डयन
मंत्री
के
रूप
में
पदभार
संभाला
था,
तब
मैंने
जो
पहला
काम
किया
था
वह
था
हमारे
हवाई
अड्डों
की
कार्बन
मैपिंग
प्रोफाइलिंग।
इसमें
यह
बात
सामने
आई
कि
हमारे
दो
हवाई
अड्डे
दिल्ली
और
कोच्चि
पहले
से
ही
कार्बन-न्यूट्रल
हैं
और
वर्ष
2024
तक
देश
में
इनकी
संख्या
92
से
93
होगी।
उन्होंने
कहा
कि
मंत्रालय
ने
वर्ष
2030
तक
शून्य
कार्बन
उत्सर्जन
का
लक्ष्य
रखा
है।

ज्योतिरादित्य
सिंधिया
ने
कार्यक्रम
के
दौरान
बोलते
हुए
यह
भी
कहा
कि
वर्ष
2030
तक
भारत
के
हवाई
अड्डे
ना
केवल
शून्य
कार्बन
उत्सर्जन
का
लक्ष्य
हासिल
करेंगे,
बल्कि
ये
400
मिलियन
हवाई
यात्रियों
का
लक्ष्य
भी
हासिल
कर
लेंगे।
वर्तमान
में
हमाने
पास
200
मिलियन
घरेलू
और
अंतरराष्ट्रीय
हवाईयात्री
हैं।
साथ
ही
उन्होंने
यह
भी
कहा
कि
हवाई
यात्रियों
की
बढ़ती
संख्या
को
सही
ढंग
से
सेवा
मुहैया
कराने
के
लिए
जमीनी
स्तर
पर
संसाधनों
को
ओर
दुरुस्त
करने
और
उन्हें
बढ़ाने
की
जरूरत
है।
उन्होंने
कहा,
‘पिछले
आठ
वर्षों
में,
देश
में
हवाई
अड्डों
की
संख्या
74
से
बढ़कर
141
हो
गई
है
और
अगले
पांच
वर्षों
में
यह
बढ़कर
220
हो
जाएगी।’

ज्योतिरादित्य
सिंधिया
बोले-
समय
सबसे
दुर्लभ

सिंधिया
ने
कहा,
‘एक
चीज
जो
हर
इंसान
के
लिए
दुर्लभ
है,
वह
है
समय।
अब
नौ-10
घंटे
की
यात्रा
करना,
छुट्टी
पर
दो
दिन
बिताना
और
इतने
ही
घंटे
फिर
से
यात्रा
करना
एक
विलासिता
के
समान
है।
केंद्रीय
मंत्री
ने
विमानन
क्षेत्र
में
एक
पारिस्थितिकीय
तंत्र
स्थापित
करने
की
आवश्यकता
पर
भी
जोर
दिया।

कोलकाता
से
लंदन
की
सीधी
फ्लाइट
की
मांग,
तृणमूल
के
प्रतिनिधि
एविएशन
मिनिस्टर
से
मिले

तृणमूल
कांग्रेस
के
एक
संसदीय
प्रतिनिधिमंडल
ने
मंगलवार
को
नागरिक
उड्डयन
मंत्री
ज्योतिरादित्य
सिंधिया
से
मुलाकात
कर
कोलकाता-लंदन
के
लिए
सीधी
उड़ान
और
पुरुलिया
के
छर्रा
में
एक
अतिरिक्त
हवाई
अड्डे
की
मांग
की
है।
तृणमूल
कांग्रेस
के
प्रतिनिधिमंडल
में
सांसद
सुदीप
बंदोपाध्याय,
डेरेक

ब्रायन,
सौगात
रॉय
और
सुखेंदु
शेखर
रॉय
शामिल
थे।
तृणमूल
कांग्रेस
के
प्रतिनिधियों
ने
केंद्रीय
मंत्री
से
मुलाकात
कर
पश्चिम
बंगाल
से
एयर
कनेक्टिविटी
बेहतर
करने
की
मांग
की
है।

मुलाकात
के
बाद
वरिष्ठ
नेता
सौगात
रॉय
ने
कहा
कि
हमने
नागर
विमानन
मंत्री
से
मुलाकात
कर
पश्चिम
बंगाल
के
मालदा,
बालुरघाट,
कूच
बिहार,
अंडाल
और
पुरुलिया
के
छर्रा
में
एक
प्रस्तावित
एयरपोर्ट
के
विकास
पर
बातचीत
की
है।
डेलिगेशन
ने
बागडोगरा
एयरपोर्ट
को
अंतरराष्ट्रीय
एयरपोर्ट
का
दर्जा
देने
की
भी
मांग
की
है।

सौगात
रॉय
के
अनुसार
केंन्द्रीय
मंत्री
ने
प्रतिनिधिमंडल
को
यह
आश्वासन
दिया
है
कि
इस
बार
सर्दियों
में
कोलकाता
से
कूच
बिहार
के
बीच
फ्लाइट
शुरू
हो
जाएगी।
यह
सेवा
क्षेत्रीय
कनेक्टिविटी
में
सुधार
के
लिए
चलाई
जा
रही
उड़ान
स्कीम
तहत
शुरू
की
जाएगी।
इसके
लिए
19
सीटों
वाले
विमानों
का
इस्तेमाल
किया
जाएगा।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को लिखा पत्र, ग्वालियर के लिए की ये बड़ी मांगज्योतिरादित्य
सिंधिया
ने
केंद्रीय
मंत्री
नितिन
गडकरी
को
लिखा
पत्र,
ग्वालियर
के
लिए
की
ये
बड़ी
मांग

रॉय
के
अनुसार
अंडाल
एयरपोर्ट
के
मसले
पर
हुई
चर्चा
के
दौरान
केंद्रीय
मंत्री
ने
कहा
है
कि
चूंकि
जमीन
सरकार
की
नहीं
है,
इसलिए
इसे
कोई
केंद्रीय
धन
आवंटित
नहीं
किया
जा
सकता
है।
बता
दें
कि
अंडाल
एयरपोर्ट
की
26
फीसदी
भूमि
का
स्वामित्व
सरकार
के
पास
है
जबकि
बाकी
जमीन
निजी
पार्टियों
की
है।

English summary

union-minister jyotiraditya scindia said by 2024 more than 90 airports will become carbon neutral

Story first published: Thursday, September 22, 2022, 15:03 [IST]

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.