MP: यूपी के बाद अब बुंदेलखंड में बनेगा सीएम योगी आदित्यनाथ का ‘मंदिर’ | MP, Bundelkhand, Niwari, UP, CM, Yogi Adityanath, temple, worship, aarti will happen

योगी से प्रभावित होकर संन्यासी बने, अब योगी मंदिर बनवाने जा रहे

योगी से प्रभावित होकर संन्यासी बने, अब योगी मंदिर बनवाने जा रहे

बुंदेलखंड के निवाड़ी जिले के टेहरका में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का मंदिर बनने जा रहा हैं। मंदिर का निर्माण योगी से खासे प्रभावित व संन्यासी अनुयायी हिन्दू सत्यनाथ के नाम से पहचाने जाने वाले सतेंद्र चतुर्वेदी बनवाने जा रहे हैं। सतेंद्र ने साल 2017 में योगी आदित्यनाथ को आदर्श मानते हुए संन्यास धारण कर लिया था। वे योगी से इतने प्रभावित हैं कि अब भगवान का दर्जा देकर उनका मंदिर बनाने जा रहे हैं। मंदिर को निजी जमीन पर बनवाएंगे ताकि किसी को कोई आपत्ति न हो। टेहरका में सतेंद्र का हिन्दू सत्यनाथ आश्रम भी है।

दीपावली के दिन होगा भूमिपूजन, एक साल में मंदिर तैयार होगा

दीपावली के दिन होगा भूमिपूजन, एक साल में मंदिर तैयार होगा

सतेंद्र चतुर्वेदी से हिन्दू सत्यनाथ बने संन्यासी ने अपने आदर्श को भगवान के समान पूजने और उनकी सेवा करने के लिए बकायदा मंदिर बनाने का निर्णय लिया है। वे योगी की फोटो की पूजा भी करते हैं। मंदिर में प्रतिमा स्थापित कर भगवान के जैसे नियम, धर्म से पूजा-पाठ करेंगें। सत्यनाथ आश्रम परिसर में योगी के मंदिर के लिए जगह आरक्षित कर ली गई है। इसे वास्तुशास्त्र के हिसाब से, दिशाओं का ध्यान रखते हुए तैयार कराया जाएगा। दीपावली के दिन मंदिर का भूमिपूजन किया जाएगा। मंदिर निर्माण के लिए जयपुर के कारीगरों का बुलाया जा रहा है, जो यहीं रहकर मंदिर का निर्माण करेंगे। मंदिर के साथ-साथ योगी आदित्यनाथ की प्रतिमा भी यहीं पर तैयार की जाएगी। प्रतिमा का कद-काठी, अक्श, चेहरा, हाव-भाव और साइज बिलकुल योगी के समान हो, इसके लिए एक्सपर्ट कारीगरों को यह काम सौंपा जा रहा है।

मंदिर में शिलालेख लगेंगे, जीवन परिचय और कार्य अंकित होगें

मंदिर में शिलालेख लगेंगे, जीवन परिचय और कार्य अंकित होगें

योगी के मंदिर में केवल योगी की प्रतिमा ही नहीं होगी। यहां आने वाले दर्शनार्थियों को योगी के पूरे जीवन चरित्र, जीवन दर्शन, उनके संन्यास जीवन के सफर, उनके राजनीतिक सफर, योगी के द्वारा बतौर सीएम किए गए कार्यां, अयोध्या में भगवान श्रीरामलला के मंदिर निर्माण व इसके संघर्ष में उनकी भूमिका व योगदान को अंकित किया जाएगा। मंदिर परिसर, दीवारों पर शिलालेख लगाए जाएंगे। मंदिर को ऐतिहासिकता का लुक दिया जाएगा। भविष्य में जो भी आएगा, वह शिलालेख पढ़कर योगी के जीवन के बारे में पूरी जानकारी पा सकेगा।

गोरखपुर जाते रहे हैं, योगी का चुनाव प्रचार भी किया है

गोरखपुर जाते रहे हैं, योगी का चुनाव प्रचार भी किया है

निवाड़ी टेहरका के मूल निवासी सतेंद्र चतुर्वेदी जो अब हिन्दू सत्यनाथ संन्यासी हैं, वे योगी आदित्यनाथ के चुनाव प्रचार के लिए हर बार गोरखपुर जाते रहे हैं। व कई-कई दिन तक रुककर चुनाव प्रचार करते हैं। योगी को जिताने के लिए लोगों से अपील करते रहे हैं। योगी के प्रति उनकी आस्था और समर्पण के चलते लोग उन्हें बुंदेलखंड का योगी भी कहने लगे हैं। वेे बिलकुल योगी के जैसी वेशभूषा धारण करते हैं और उन्हीं के जैसे भगवा वस्त्र धारण करते हैं। वे हर स्तर पर अपने आदर्श योगी आदित्यनाथ को जीवन में फॉलो कर रहे हैं।

अयोध्या के भरतपुरकुंड के मौर्य का पुरवा में बना है योगी का मंदिर

अयोध्या के भरतपुरकुंड के मौर्य का पुरवा में बना है योगी का मंदिर

योगी के कार्यों और श्रीराम मंदिर आंदोलन में उनकी भूमिका और अयोध्या में श्रीराम लला मंदिर निर्माण कराने में महती योगदान के बाद अयोध्या के गोरखपुर हाईवे भरतपुरकुंड मौय का पुरवा में रहने वाले प्रभाकर मौर्य ने यहा योगी आदित्यनाथ का मंदिर बनवाया है। उन्होंने मंदिर में करीब 5 फीट 4 इंच ऊंचाई की प्रतिमा स्थापित कर भगवान की तरह पूजा-अर्चना प्रारंभ कर दी है। मूर्ति को बिलकुल योगी आदित्यनाथ के जैसे ही कपड़े पहनाए जाते हैं। सुबह, दोपहर व शाम को आरती होती है। प्रभाकर योगी पर लिखे गए भजन भी गाते हैं। हालांकि यह मंदिर प्रभाकर के परिवार के ही व्यक्ति की शिकायत के बाद विवादों में आ गया है। मामला पुलिस थाने तक पहुंच गया और मंदिर की जमीन सरकारी होने को लेकर भी दावा किया जा रहा है कि यह मंदिर अवैध है।

महानायक अमिताभ बच्चन का भी मंदिर बन चुका है

महानायक अमिताभ बच्चन का भी मंदिर बन चुका है

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ इकलौके व्यक्ति नहीं हैं, जिनके जीते जी उनका मंदिर बनाकर पूजा की जा रही है। इनके पहले महानायक व फिल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन का भी मंदिर देश में बन चुका है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कोलकाता में अमिताभ बच्चन के प्रशंसकों की एक एसोसिएशन बनी हुई है। अमिताभ बच्चन की जब सरकार फिल्म रिलीज हो रही थी, उसी दौरान फैंस सुब्रतो बोस ने अमिताभ बच्चन का मंदिर बनवाकर उसमें अमिताभ बच्चन की लंबाई के बराबर उनकी प्रतिमा स्थापित कराई है। यहां रोज उनके कपड़े बदले जाते हैं, आरती होती है, भोग लगाया जाता है। अमिताभ के जन्मदिन पर यहां हवन-यज्ञ का आयोजन भी किया जाता है।

Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.